देखो सूबे के मुखिया आप के अधिकारियों के संरक्षण में पल रहे खनिज माफिया पत्रकारों को जान से मारने की धमकी दे रहे

डिंडोरी- लगा था कोंग्रेस की सरकार आई है पत्रकारों के साथ कुछ अच्छा हो न हो पर सायद मध्यप्रदेश में पत्रकारों से साथ हो रहे अत्याचारों पर लगाम लगेगी पर दुर्भाग्य है पत्रकारों का की आप के राज में तो लगता है पत्रकारों की और दुर्गति होने वाली है,
सुनिये सूबे के मुख्यमंत्री कमलनाथ आप ने हर जिलो में जो प्रशासनिक अमला बैठाया है क्या इस लिए बैठाया है कि आप के पार्टी के 15 साल के वनवास की भरपाई इन खनिज माफियाओं को संरक्षण दे कर काली कमाई करें और आप की तिजोड़ी भरी जाए,
सूबे के मुख्यमंत्री तो जरा गौर से मेरी बातों को सुनिये ये पत्रकार बहुत अदने से इंसान होते है जिन्हें आप जैसे मंत्री ,नेता,पार्टी,खनिज माफिया कीड़ा मकोड़ा समझते है और जब जो मर्जी में आता है आप और आप के सरकार के नाक के नीचे पलने वाले माफिया करते है,पर ये पत्रकार है आप आज हो कल सरकार रहे न रहे ,आप मुख्यमंत्री रहे न रहे पर हर दिन आप का पाला हम पत्रकारों से ही पड़ने वाला है और हम वही अदने से पत्रकार रहेंगे जो आज है पर आप की ये निठ्ठल्ली सरकार और प्रशासन के नीचे पल रहे खनिज माफिया रूपी गुर्गे आप को और आप की सरकार को कहीं का नही छोड़ेंगे

 सुने जिला प्रशासन
डिंडोरी जिले के कलेक्टर  बी कार्तिकेयन पुलिस अधीक्षक एमएल सोलंकी जिला खनिज अधिकारी सुनील उइके लगातार डिंडोरी जिले में अवैध उत्खनन और परिवहन के मामले संज्ञान में आते है पर आप किन वजहों से इन माफियाओं पर नकेल नही कस रहे हमे नही पता पर आप के द्वारा किसी प्रकार की कार्यवाही नही होना इन माफियाओं पर ये दर्शाता है कि कहीं न कहीं इन माफियाओं को आप का संरक्षण प्राप्त है और अब हालात इतने बदतर हो चले है कि आप की संरक्षण में पल रहे ये खनिज माफिया अब खुले आम जान से मारने की धमकियां देने लगे है ,कहीं ऐसा तो नही आप इन्हें संरक्षण दे कर अपनी तिजोरी के बंदोबस्त में नही लगे है ये मेरा आरोप नही आप के द्वारा समय रहते माफियाओं पर नकेल न कसना यही सवाल खड़ा करता है,ये माफिया किसी के सगी नही होते आज पत्रकारों को धमकी दे रहे है कल आप के ही अधीनस्थ कर्मचारी जब इन्हें रोकने का प्रयास करेंगे तो ये माफिया उनके साथ भी ऐसा ही सुलूक करेंगे पूर्व की सरकार में भी कई अधिकारी कर्मचारी इन माफियाओं के शिकार होते रहे है तो समय रहते चेत जाइये और इन माफियाओं पर नकेल कसिए

क्या है मामला
डिंडोरी जिले के समनापुर जनपद के ग्राम पंचायत बुड़रुखी और मुकुटपुर के दो मीडियाकर्मी युवकों को खबर छपवाने के मामले में गाली गलौच ओर जान से मारने की धमकी दी गई जिसकी शिकायत पत्रकार संघ द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंप कर किया गया है, बताया गया है कि फैंसिंग में फंसने से दो मवेशियों की मौत हो गई थी जिसकी खबर मीडियाकर्मी नंदकिशोर ठाकुर द्वारा प्रकाशित करवाया गया था जिस पर नंदराम राठौर ने गाली गलौच करते हुए जान से मारने की धमकी दी है वही दूसरी घटना  ग्राम पंचायत कुकर्रामठ में जेसीबी द्वारा रोजगार गारंटी योजना में कार्य करवाया जा रहा था जिस पर मीडियाकर्मी रामसुजान द्वारा समाचार प्रकाशित करवाया गया ,जिस पर ग्राम पंचायत के पंच सीताराम द्वारा फोन से गाली गलौच करते हुए जान से मारने की धमकी दी।

न्यूज़ सोर्स : विजय उरमलिया की कलम से